धूमधाम से मनाया गया एनटीपीसी का 46वाॅ स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया एनटीपीसी का 46वाॅ स्थापना दिवस
डॉ. मनी राम वर्मा एनटीपीसी लिमिटेड की टाण्डा सुपर थर्मल पावर स्टेशन में एनटीपीसी का स्थापना दिवस-2020 मनाया गया। कार्यक्रम में परियोजना के प्रांगण... धूमधाम से मनाया गया एनटीपीसी का 46वाॅ स्थापना दिवस

डॉ. मनी राम वर्मा

एनटीपीसी लिमिटेड की टाण्डा सुपर थर्मल पावर स्टेशन में एनटीपीसी का स्थापना दिवस-2020 मनाया गया। कार्यक्रम में परियोजना के प्रांगण में आयोजित एक समारोह में कार्यक्रम के मुख्य अतिथि परियेजना प्रमुख के. श्रीनिवास राॅव ने एनटीपीसी का ध्वज फहराया। कर्मचारियों ने एनटीपीसी गीत प्रस्तुत किया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि ने केक काटकर सभी को स्थापना दिवस की बधाई दी।

समारोह के अवसर पर अपने सम्बोधन में श्री राॅव ने परियोजना परिवार के समस्त सदस्यों, अपने सहयोगी संस्थाओं के सदस्यों तथा केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के सदस्यों को बधाई देते हुये कहा कि एनटीपीसी की इस विकास यात्रा में टाण्डा विद्युत गृह का एक महत्वपूर्ण योगदान रहा है। दुनियाभर की अर्थव्यवस्थाओं को प्रभावित करने वाली महामारी कोविड-19 के कारण उपजे हालात को देखते हुए एनटीपीसी ने अपने स्थापना दिवस से संबंधित कार्यक्रम ‘दो गज की दूरी‘ और ‘आॅनलाईन प्लेटफार्म‘ के माध्यम से मनाने का निर्णय लिया है। इस बार का स्थापना दिवस इसलिए भी खास बन जाता है, क्योकि एनटीपीसी के समस्त कर्मचारियों ने राष्ट्र को निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए इस साल की शुरुआत में लाॅकडाउन चरण के दौरान चैबिसों घंटे काम किया। जैसा कि हम सब जानते है, विद्युत हमारे जीवन का अनिवार्य हिस्सा है और लाॅकडाउन के दौरान 24ग7 विद्युत उपलब्ध कराने से न सिर्फ आपातकालीन सेंवाओं का संचालन सुगमतापूर्वक हो सका है बल्कि जीवन रक्षक उपकरणों के सुचारु संचालन में भी अत्यंत महत्वपूर्ण सहायता मिली है। हर कोई चिकित्सा पेशेवरों और आवश्यक सेवा प्रदाताओं सहित फ्रंटलाईन कोरोना योद्धाओं की सराहना कर रहा है, लेकिन महामारी ने विद्युत इंजीनियरों को भी नए नायकों के रुप में प्रतिष्ठित किया है।

उन्होने परियोजना की द्वितीय स्टेज का जिक्र करते हुए बताया कि 29 अक्टूबर 2020 को युनिट- 6 के ब्वायलर लाईटअप का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। हमे उम्मीद है कि चालू वित्त वर्ष के अंत तक छठवीें इकाई को भी सिंक्रोनाइज कर लिया जाएगा। युनिट-5 के कामर्शियल उत्पादन प्रारंभ होने क साथ ही टांडा परियोजना की कुल क्षमता 440 मेगावाट से बढ़कर 1100 मेगावाट हो गई है। साथ ही एनटीपीसी की कुल संस्थापित क्षमता 62910 मेगावाट हो गई है।कार्यक्रम के दौरान एनटीपीसी के अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक गुरदीप सिंह द्वारा किये जा रहे सम्बोधन का सीधा प्रसारण दिखाया गया।

Times Todays News

No comments so far.

Be first to leave comment below.

Your email address will not be published. Required fields are marked *