पी-एच.डी. प्रवेश परीक्षा 8 नवम्बर को पी-एच.डी. प्रवेश परीक्षा 8 नवम्बर को
अयोध्या। डाॅ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 रविशंकर सिंह के निर्देश पर पी-एच0डी0 प्रवेश परीक्षा-2020 का आयोजन किया जा रहा है। यह प्रवेश परीक्षा 8 नवम्बर, 2020 को निर्धारित परीक्षा केन्द्रों पर होगी जिसमें 27 विषयों में परीक्षार्थी प्रवेश परीक्षा देंगे। पी-एच0डी0 प्रवेश परीक्षा के समन्वयक प्रो0 शैलेंद्र कुमार वर्मा ने बताया कि पी-एच0डी0 प्रवेश समिति की मीटिंग के उपरांत प्रवेश परीक्षा 8 नवंबर 2020 की निर्धारित परीक्षा केन्द्रों पर होगी। विश्वविद्यालय के कुलपति ने पी-एच0डी0 प्रवेश परीक्षा की शुचिता के साथ कोविड-19 के अनुपालन में पूरी तरह से कराने का निर्देश प्रदान किया है। इस प्रवेश परीक्षा में कुल 4500 आवेदन प्राप्त हुए हैं। अयोध्या जनपद के 07 केंद्रों पर प्रवेश परीक्षा होगी जिसमें 3500 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित होंगे। इस प्रवेश परीक्षा में नेट एवं जेआरएफ एवं अन्य अर्ह लगभग 1000 आवेदकों को प्रवेश परीक्षा से छूट प्रदान की गई है। प्रवेश परीक्षा को सुचारूपूर्ण एवं शुचिता के साथ कराने के लिए विश्वविद्यालय और अन्य महाविद्यालयों के शिक्षकों की पर्यवेक्षक के रूप में तैनाती के साथ-साथ सचल दल के दस्ते भी चलाए जाएंगे। समिति की बैठक में उप-समन्वयक डॉ० नरेश चैधरी, डॉ० गीतिका श्रीवास्तव, डॉ० नीलम यादव, डॉ० अभिषेक सिंह, डॉ० आशुतोष सिंह, डॉ० राजेश सिंह कुशवाहा, प्रोग्रामर रवि मालवीय एवं अन्य की उपस्थिति उल्लेखनीय रही। पी-एच.डी. प्रवेश परीक्षा 8 नवम्बर को

अयोध्या। डाॅ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 रविशंकर सिंह के निर्देश पर पी-एच0डी0 प्रवेश परीक्षा-2020 का आयोजन किया जा रहा है। यह प्रवेश परीक्षा 8 नवम्बर, 2020 को निर्धारित परीक्षा केन्द्रों पर होगी जिसमें 27 विषयों में परीक्षार्थी प्रवेश परीक्षा देंगे। पी-एच0डी0 प्रवेश परीक्षा के समन्वयक प्रो0 शैलेंद्र कुमार वर्मा ने बताया कि पी-एच0डी0 प्रवेश समिति की मीटिंग के उपरांत प्रवेश परीक्षा 8 नवंबर 2020 की निर्धारित परीक्षा केन्द्रों पर होगी। विश्वविद्यालय के कुलपति ने पी-एच0डी0 प्रवेश परीक्षा की शुचिता के साथ कोविड-19 के अनुपालन में पूरी तरह से कराने का निर्देश प्रदान किया है। इस प्रवेश परीक्षा में कुल 4500 आवेदन प्राप्त हुए हैं। अयोध्या जनपद के 07 केंद्रों पर प्रवेश परीक्षा होगी जिसमें 3500 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित होंगे। इस प्रवेश परीक्षा में नेट एवं जेआरएफ एवं अन्य अर्ह लगभग 1000 आवेदकों को प्रवेश परीक्षा से छूट प्रदान की गई है। प्रवेश परीक्षा को सुचारूपूर्ण एवं शुचिता के साथ कराने के लिए विश्वविद्यालय और अन्य महाविद्यालयों के शिक्षकों की पर्यवेक्षक के रूप में तैनाती के साथ-साथ सचल दल के दस्ते भी चलाए जाएंगे। समिति की बैठक में उप-समन्वयक डॉ० नरेश चैधरी, डॉ० गीतिका श्रीवास्तव, डॉ० नीलम यादव, डॉ० अभिषेक सिंह, डॉ० आशुतोष सिंह, डॉ० राजेश सिंह कुशवाहा, प्रोग्रामर रवि मालवीय एवं अन्य की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।

Times Todays News

No comments so far.

Be first to leave comment below.

Your email address will not be published. Required fields are marked *