पत्रकारों की समस्या को सरकारें भी अनसुना कर रही हैं: अच्युतानंद मिश्रा पत्रकारों की समस्या को सरकारें भी अनसुना कर रही हैं: अच्युतानंद मिश्रा
आज के दौर में पत्रकारिता को फेक न्यूज़ पेड न्यूज़ और टीआरपी के प्रतिस्पर्धा ने घेर रखा है जिससे पत्रकार और मीडिया संस्थान प्रभावित... पत्रकारों की समस्या को सरकारें भी अनसुना कर रही हैं: अच्युतानंद मिश्रा

आज के दौर में पत्रकारिता को फेक न्यूज़ पेड न्यूज़ और टीआरपी के प्रतिस्पर्धा ने घेर रखा है जिससे पत्रकार और मीडिया संस्थान प्रभावित हो गए हैं जिसका खामियाजा आमजन को भुगतना पड़ रहा है और लोकतंत्र पर संकट खड़ा होने की आशंका बढ़ गई है उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन द्वारा आयोजित एक वर्चुअल कार्यक्रम में बोलते हुए प्रख्यात पत्रकार एवं माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय भोपाल के पूर्व कुलपति अच्युतानंद मिश्रा ने कहा उन्होंने आगे कहा कि आज के माहौल में पत्रकार संगठन भी अपनी अहमियत खो चुके हैं और पत्रकारों की संस्थाएं कई कई टुकड़ों में बंट गई हैं जिससे अब पत्रकारों की समस्या को सरकारें भी अनसुना कर रही हैं उन्होंने उत्तर प्रदेश में पत्रकार संगठनों की स्थिति पर भी चिंता जाहिर किया तथा कहा कि पत्रकार संगठनों के ही भरोसे लखनऊ और वाराणसी में पत्रकार कालोनियां विकसित कराई गई थी कई जिलों में प्रेस क्लब स्थापित कराए गए थे पत्रकारों की जो भी समस्या होती थी होम सेक्रेट्री के अस्तर से निपटा लिए जाते थे आज स्थिति बदल चुकी है और पत्रकार संगठन बेमानी हो रहे हैं ऐसे में उन्होंने पत्रकार संगठनों को मजबूत करने की पुराने साथियों से अपील की वर्चुअल कान्फ्रेंस में नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट्स के अध्यक्ष मनोज मिश्रा ने कहा कि उत्तर प्रदेश में उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन को मजबूत आधार पर खड़ा किया जा रहा है जहां पर हर सदस्य बराबर होगा पद की लालसा वालों के लिए स्थान नहीं रहेगा

राष्ट्रीय महासचिव सुरेश शर्मा ने कहा कि कोई भी संगठन चलाने के लिए नियमों का कड़ाई से पालन करना पड़ेगा अनुशासनहीनता किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी और पत्रकार साथियों को एकजुट करने के लिए हर संभव प्रयास किया जाएगा और किया भी जा रहा है उन्होंने यह भी कहा कि आज कई पुराने और वरिष्ठ पत्रकारों ने इस वर्चुअल सम्मेलन में अपनी भागीदारी निभाकर नया संकेत दे दिया है

प्रदेश अध्यक्ष डॉ जी सी श्रीवास्तव ने मुख्य अतिथ और राष्ट्रीय पदाधिकारियों का स्वागत अभिनंदन किया संचालन महासचिव राधे श्याम लाल कर्ण ने किया

वर्चुअल सम्मेलन में बोलते हुए अयोध्या के वरिष्ठ पत्रकार त्रियुगी नारायण तिवारी ने कहा की उत्तर प्रदेश में पत्रकार संगठनों पर कब्जा करना कुछ लोगों की राजनीति हो गई है पत्रकार संगठनों मैं पद भी हासिल करना एक कला हो गया था जिसे समाप्त किया जाना चाहिए उन्होंने विश्वास व्यक्त किया यह नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट्स और उपजा के संस्थापक रहे अच्युतानंद मिश्रा जी के मार्गदर्शन में नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट्स और उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन काम कर रहा है और साफ-सुथरी छवि के लोगों को संपर्क साध कर जोड़ने का प्रयास भी कर रहा है उन्होंने कहा कि इस दिशा में पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई जिलों में नई कमेटियां गठित हो चुकी हैं और कई गठन की प्रक्रिया में हैं वर्चुअल सम्मेलन को जग प्रताप सिंह जेपी सिंह वीरेंद्र सक्सेना लखनऊ ने भी संबोधित किया वर्चुअल सम्मेलन में लगभग 60 लोगों ने अपनी भागीदारी निभाई करो ना कॉल मी उपजा की यह पहली बैठक हुई अंत में महामंत्री राधे श्याम लाल करन ने मुख्य अतिथि वह सभी साथियों को धन्यवाद ज्ञापित किया

Times Todays News

No comments so far.

Be first to leave comment below.

Your email address will not be published. Required fields are marked *