शिक्षकों से कक्षा 5 व 8 का अंकपत्र मांगना हास्यास्पद-उदयराज मिश्र शिक्षकों से कक्षा 5 व 8 का अंकपत्र मांगना हास्यास्पद-उदयराज मिश्र
अनुज यादव अम्बेडकरनगर।कोरोना संक्रमणकाल में भी पोस्टल विभाग को पीछे छोड़ पत्राचार के मामले में आगे निकले माध्यमिक शिक्षा विभाग द्वारा हालिया जारी परिपत्र... शिक्षकों से कक्षा 5 व 8 का अंकपत्र मांगना हास्यास्पद-उदयराज मिश्र

अनुज यादव

अम्बेडकरनगर।कोरोना संक्रमणकाल में भी पोस्टल विभाग को पीछे छोड़ पत्राचार के मामले में आगे निकले माध्यमिक शिक्षा विभाग द्वारा हालिया जारी परिपत्र के मुताबिक शिक्षकों व कर्मचारियों से कक्षा 5 व 8 के अंकपत्र मांगे गए हैं।जिसे माध्यमिक शिक्षक संघ,अम्बेडकर नगर के जिलाध्यक्ष उदयराज मिश्र ने हास्यास्पद व विभागीय दिवालियापन करार दिया है।
गौरतलब है 24 सितंबर को माध्यमिक शिक्षा विभाग द्वारा जारी कई पन्नों के परिपत्र में समस्त विद्यालयी सूचनाओं का पृष्ठांकन करते हुए विभागीय बेबसाइट पर अपलोड करने का भी निर्देश दिया गया है।जोकि मानव सम्पदा पोर्टल से इतर व प्रबन्ध समिति से लेकर सभी प्रकार के संसाधनों सहित छात्र कोषों की सूचना से भी सम्बन्धित है।दिलचस्प बात तो यह है कि इस परिपत्र के भाग”ग” में शिक्षकों व कर्मचारियों के कक्षा 5 व 8 के अंकपत्र बाकायदा अनुक्रमांक व मय बोर्ड भरने के साथ साथ अपलोड भी किया जाना है।जिसे लेकर उक्त शिक्षक नेता ने कड़ा एतराज जताया है।
उक्त शिक्षक नेता के अनुसार माध्यमिक शिक्षा अधिनियम के अंतर्गत प्रधानाचार्यों को गृह परीक्षा के नाम पर ऑन टेस्ट कक्षा 8 तक किसी भी कक्षा में जहां नाम लिखने का अधिकार है वहीं शिक्षा के अधिकार अधिनियम में भी योग्यता के मुताबिक वंचित छात्रों को किसी भी कक्षा में नामांकित करने का प्रावधान है।ध्यातव्य है कि जन्मतिथि सहित अन्य सभी शासकीय कार्यों में कक्षा 10 का अंकपत्र ही कानूनन मान्य औरकि प्रयुक्त होता है।ऐसे में तीस चालीस वर्ष पूर्व उत्तीर्ण कक्षाओं के अंकपत्र मांगना शिक्षकों के उत्पीड़िन के सिवा और कुछ नहीं है।गौरतलब है कि मानव सम्पदा पोर्टल पर पहले से ही सभी शिक्षकों व कर्मियों के समस्त शैक्षिक अभिलेख अपलोड किए जा चुके हैं।ऐसे में फिर तुगलकी फरमान जारी किए जाना समझ से परे और वापस लेने योग्य है।

Times Todays News

No comments so far.

Be first to leave comment below.

Your email address will not be published. Required fields are marked *