फागिंग न कराए जाने से ग्रामीणों में आक्रोश फागिंग न कराए जाने से ग्रामीणों में आक्रोश
डॉ ए एस विशेन/ प्रेम प्रकाश कुशीनगर स्वास्थ्य विभाग व ग्राम पंचायतों की लापरवाही बरसात व उमस के मौसम के चलते मच्छरों की पैदावार... फागिंग न कराए जाने से ग्रामीणों में आक्रोश
  • डॉ ए एस विशेन/ प्रेम प्रकाश
  • कुशीनगर
  • स्वास्थ्य विभाग व ग्राम पंचायतों की लापरवाही बरसात व उमस के मौसम के चलते मच्छरों की पैदावार बढ़ गई है। जहरीले डंक वाले मच्छरों के आतंक से क्षेत्र के दुदही विकास खंड के गुरवलिया, मठिया, सरिसवां, कोरेया, मछलियां, खिरियां, दोघरा, बरमपुर, धर्मपुर पर्वत, मठिया भोकरिया, दुमही, बंगरा आदि तथा तमकुही विकास खंड के सेमरा हर्दोपट्टी, तारविशुनपुर, खलवापट्टी, सपही बुजुर्ग, सपही खुर्द, सपही खास, सपही टड़वा, बरवा राजापाकड़, राजापाकड़, खुदरा अहिरौली, पगरा प्रसाद गिरी, पगरा पड़री, नौगांवा, लबनियां, अमरवा बुजुर्ग, देवरिया वृत्त, ज्वार भैंसहा, सिंदुरिया, मोगलपुरा, करमैनी, भेलया, चंद्रौटा, तिरमासाहुन गांवों में ग्रामीणों की नींद हराम हो गई है। ग्राम पंचायतों व स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से फागिंग न कराए जाने से ग्रामीणों में आक्रोश है। ग्रामीणों ने कहा कि मच्छरों का आतंक बढ़ गया है। इनके विषैले डंक से प्रसारित बैक्टीरिया, वायरस या परजीवी के कारण होने वाली बीमारियों जैसे मलेरिया, डेंगू, जापानी इन्सेफलाइटिस आदि फैलने  का भय सता रहा है। मौजूदा समय में कोरोना संकट से भी लोग घबराये हैं कि मच्छर भी वायरस के प्रसार में सहायक साबित हो सकते हैं। आरोप लगाया कि स्वास्थ्य विभाग व ग्राम पंचायतें फागिंग नही करा रही है। ग्रामीण जितेंद्र गुप्ता, संजय पासवान, भुआल गोंड, आशीष पांडेय, मृत्युंजय, मंजेश आदि ने फागिंग कराए जाने की मांग की है।

Times Todays News

No comments so far.

Be first to leave comment below.

Your email address will not be published. Required fields are marked *