वैश्विक मानकों के अनुरूप शिक्षा एवं अनुसंधान विश्वविद्यालय की स्थापनाः कुलपति वैश्विक मानकों के अनुरूप शिक्षा एवं अनुसंधान विश्वविद्यालय की स्थापनाः कुलपति
अयोध्या। राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर देशव्यापी जागरूकता अभियान के तहत डाॅ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 रविशंकर सिंह ने बताया कि नई... वैश्विक मानकों के अनुरूप शिक्षा एवं अनुसंधान विश्वविद्यालय की स्थापनाः कुलपति

अयोध्या। राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर देशव्यापी जागरूकता अभियान के तहत डाॅ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 रविशंकर सिंह ने बताया कि नई शिक्षा नीति.2020 ने देशभर के उच्च शिक्षा संस्थानों के लिए एक एकल नियामक भारतीय उच्च शिक्षा परिषद् की परिकल्पना की गई है। परिषद् की विभिन्न भूमिकाओं को पूरा करने के लिए कई कार्य क्षेत्र निर्धारित किये गये है। भारतीय उच्च शिक्षा आयोग चिकित्सा एवं कानूनी शिक्षा को छोड़कर पूरे उच्च शिक्षा क्षेत्र के लिए एक निकाय के रूप में परिषद् कार्य करेगी। कुलपति प्रो0 सिंह ने बताया कि कार्यों के प्रभावी निष्पादन के लिए चार अन्य निकायों का गठन किया गया है। इसमें राष्ट्रीय उच्चत्तर शिक्षा नियामकीय परिषद् इसके तहत शिक्षकए शिक्षा सहित उच्च शिक्षा के क्षेत्र में यह नियामक का कार्य करेगा। सामान्य शिक्षा परिषद् उच्च शिक्षा कार्यक्रमों के लिए अपेक्षित सीखनें के परिणामों का मानक निर्धारण करेगा। नई शिक्षा नीति में राष्ट्रीय प्रत्यायन परिषद् मुख्य रूप से बुनियादी मापदण्डोंए सार्वजनिक स्वप्रकटीकरणए सुशासन और परिणामों पर आधारित होगा। कुलपति ने बताया कि उच्चत्तर शिक्षण संस्थानों में व्यापक सुधार के लिए उच्चत्तर शिक्षा अनुदान परिषद् कालेजों एवं विश्वविद्यालयों के लिए वित्तपोषण का कार्य करेगी। अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद और राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद् वर्तमान में इन्हीं निकायो के माध्यम से संचालित की जाती रही है। प्रो0 सिंह ने बताया कि देशभर के आई0आई0टी0 एवं आई0आई0एम0 के समकक्ष वैश्विक मानकों के बहुविषयक शिक्षा एवं अनुसंधान विश्वविद्यालय ;मेरूद्ध की स्थापना की जायेगी। विकलांग विद्यार्थियों के लिए क्रास विकलांगता प्रशिक्षण संसाधन केन्द्रए आवास सहायक उपकरण उपर्युक्त प्रौद्योगिकी आधारित प्रशिक्षण केन्द्रों की स्थापना का प्रावधान नई शिक्षा नीति में किया गया है।

Times Todays News

No comments so far.

Be first to leave comment below.

Your email address will not be published. Required fields are marked *