सस्ता गल्ला विक्रेता(कोटेदार संघ) ने  मुख्यमंत्री  को भेजा सात सूत्रीय  ज्ञापन सस्ता गल्ला विक्रेता(कोटेदार संघ) ने  मुख्यमंत्री  को भेजा सात सूत्रीय  ज्ञापन
राजेश मिश्रा रुदौली अयोध्या । तहसील रूदौली क्षेत्र के अंतर्गत उक्त तहसील में विपणन केंद्र व पटरंगा में घटतौली भ्रष्टाचार अपनी चरम सीमा पर... सस्ता गल्ला विक्रेता(कोटेदार संघ) ने  मुख्यमंत्री  को भेजा सात सूत्रीय  ज्ञापन

राजेश मिश्रा

रुदौली अयोध्या । तहसील रूदौली क्षेत्र के अंतर्गत उक्त तहसील में विपणन केंद्र व पटरंगा में घटतौली भ्रष्टाचार अपनी चरम सीमा पर है जिसके विरुद्ध सस्ता गल्ला विक्रेता(कोटेदार संघ) के तहसील अध्यक्ष दिलदार हुसैन खान ने वर्तमान मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश शासन लखनऊ को सात सूत्रीय मांगों को लेकर रजिस्टर्ड डाक के जरिये ज्ञापन भेजा है। ज्ञापन के मध्यम से अवगत कराया हैं कि उत्तर प्रदेश की मंशा के अनुरूप सभी गोदामो पर पांच टन के काँटे से लेकर खाद्यान्न कोटेदार को देना होता है लेकिन पांच टन का कांटा सिर्फ गोदामो की शोभा बढ़ा रहे हैं।

खाद्यान्न तौल न करके मानक अनुरूप नही देते हैं जब कुछ कहा जाता है तो प्राइवेट कर्मचारी द्वारा कोटा समाप्त करने की धमकी दे मारपीट पर आमादा होते हैं।विपणन केंद्र रूदौली व पटरंगा के विपणन निरीक्षक दोनों अपने केंद्र पर तीन वर्ष से अधिक कार्यरत है अधिकारियों द्वारा कहा जाता है कि मेरा सम्बंध उच्चाधिकारियों से है मैं जब तक चाहूंगा रहूंगा। विपणन निरीक्षक कोटेदारों का फोन नही उठाते व न ही केंद्र पर उपस्थित रहते हैं। दोनों विपणन निरीक्षक परिवार के सदस्य की आय से अधिक सम्पत्ति की जांच कराई जाय जिसके उनके भ्रष्टाचार में लिप्त होने का सुबूत मिल सके।

कोटेदारों की मुख्य समस्या है कि मानक के अनुसार खाद्यान्न न मिलना बोरी का वजन न देना कुछ कोटेदारों को बोरी का वजन तथा पूरा खाद्यान्न भी देते हैं।गोदाम पल्लेदारी कोटेदारों से लिया जाता है मानक के अनुसार कोटेदार को खाद्यन्न दो से तीन कुंतल कम पड़ता है तथा रोस्टर के हिसाब से खाद्यान्न की उठान नही देते जो कोटेदार अपना निजी साधन लाता है उसको वापस कर दिया जाता है। जबकि कोटेदार प्रदेश सरकार के साथ अपनी जिम्मेदारी कोविड-19 जैसी स्थिति में सदैव अपनी जान जोखिम में डालकर कार्य मे तात्पर्य है।तथा किसी अन्य अधिकारियों द्वारा निष्पक्ष जांच कराने की मांग भी की है।ज्ञापन के माध्यम से उन्होंने बताया कि इससे पूर्व भी जिला पूर्ति अधिकारी जिलाधिकारी अयोध्या उपजिलाधिकारी रूदौली को लिखित शिकायत की गई परन्तु अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई। इस अवसर पर प्रमोद कुमार राम गोपाल शीला देवी विनोद कुमार शकील अहमद मुईद अहमद रेशमा मज़हर आलम प्रेमलली ओमप्रकाश साजिदा खातून निर्मल कुमार राकेश बंसल आदि कोटेदार उपस्थित रहे।

Times Todays News

No comments so far.

Be first to leave comment below.

Your email address will not be published. Required fields are marked *