मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना को जमीन पर उतारने की तैयारी मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना को जमीन पर उतारने की तैयारी
अयोध्या 10 जून 2021 (सूवि)ः-प्रदेश सरकार ने कोरोना की वजह से निराश्रित हुए बच्चों के पालन-पोषण से लेकर उन्हे पढ़ाने-लिखाने के लिए बनी उत्तर... मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना को जमीन पर उतारने की तैयारी

अयोध्या 10 जून 2021 (सूवि)ः-प्रदेश सरकार ने कोरोना की वजह से निराश्रित हुए बच्चों के पालन-पोषण से लेकर उन्हे पढ़ाने-लिखाने के लिए बनी उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना को जमीन पर उतारने की तैयारी कर ली है। पात्रता से लेकर आवेदन तक की प्रक्रिया तय करने के साथ ही अधिकारियों की भी जिम्मेदारी निर्धारित कर दी गयी है। उक्त जानकारी देते हुये जिलाधिकारी श्री अनुज कुमार झा ने आगे बताया कि योजना का मूल उद्देश्य महामारी मंे अनाथ हुए बच्चों की सारी जरूरत पूरी करना है। इनके भरण-पोषण, शिक्षा व चिकित्सा आदि की पूरी व्यवस्था सरकार खर्च पर की जायेगी। योजना में 18 साल तक के ऐसे बच्चें शामिल किए जायेगंे जिनके माता-पिता दोनों की मृत्यु कोरोना से हो गयी है। या फिर माता-पिता में से एक की मृत्यु 1 मार्च  2020 से पहले हो गयी है और दूसरे की मृत्यु कोविड-19 काल में हो या फिर माता-पिता दोनो की मौत 1 मार्च 2020 से पहले हो गयी थी और वैध संरक्षक की मृत्यु महामारी से हुई हो। 18 साल तक के बच्चों के वैध संरक्षक के बैंक खाते में चार हजार रुपये प्रतिमाह दिया जाएगा। यह आर्थिक मदद इस शर्त के अधीन होगी कि औपचारिक शिक्षा के लिए बच्चे का एडमिशन किसी मान्यता प्राप्त वि़द्यालय में कराया गया हो, समय से टीकाकरण कराया गया हो और बच्चे के स्वास्थ्य व पोषण का पूरा ध्यान रखा जा रहा हो, जो बच्चे बाल गृहो में रखे जा रहे है, उनको कक्षा 6 से 12 तक की शिक्षा के लिए अटल आवासीय विद्यालयों व कस्तूरबा गाॅँधी विद्यालयों में दाखिला मिलेगा। वैध संरक्षक 11 से 18 साल के बच्चों की कक्षा -12 तक की मुफ्त शिक्षा के लिए अटल आवासीय विद्यालय व कस्तूरबा गाँधी आवासीय विद्यालयो में भी प्रवेश करवा सकेंगे। ऐसे वैध संरक्षक को विद्यालय की तीन माह की अवकाश अवधि के लिए बच्चें की देखभाल हेतु प्रतिमाह चार हजार रुपये की दर से 12 हजार रुपये प्रतिवर्ष खाते में दिए जायेगेें।
जिला प्रोबेशन अधिकारी श्री विकास सिंह ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश पर अब तक कुल 139 बच्चों का चिन्ह्ंाकन कर लिया गया है, जल्द ही इनका सत्यापन कर अनुमोदनोपरान्त योजना का लाभ दिया जायेगा। योजना की समीक्षा जिलाधिकारी अयोध्या द्वारा प्रत्येक दिवस की जा रही है, जिससे केाई भी निराश्रित/अनाथ/एकल परिवार का बच्चा योजना से छूट न जाये। जनपद में ऐसे बच्चों के सम्बन्ध में किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए अपने क्षेत्र के उपजिलाधिकारी खण्ड विकास अधिकारी एवं जिला प्रोबेशन अधिकारी 7518024028 व संरक्षण अधिकारी 9450988999 के दूरभाष नम्बर पर संम्पर्क कर सकते है।

Times Todays News

No comments so far.

Be first to leave comment below.

Your email address will not be published. Required fields are marked *