ग्रामीण क्षेत्रों में बैक्सीनेशन पर विशेष ध्यान की आवश्यकता: मण्डलायुक्त ग्रामीण क्षेत्रों में बैक्सीनेशन पर विशेष ध्यान की आवश्यकता: मण्डलायुक्त
अयोध्या 10 जून 2021 (सूवि)ः-मण्डलायुक्त एमपी अग्रवाल ने मण्डल के सभी जिलाधिकारियों, मुख्य विकास अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश जारी किये है कि... ग्रामीण क्षेत्रों में बैक्सीनेशन पर विशेष ध्यान की आवश्यकता: मण्डलायुक्त

अयोध्या 10 जून 2021 (सूवि)ः-मण्डलायुक्त एमपी अग्रवाल ने मण्डल के सभी जिलाधिकारियों, मुख्य विकास अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश जारी किये है कि भविष्य में कोविड महामारी के संक्रमण से बचने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में बैक्सीनेशन पर विशेष ध्यान दिये जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि यदि हम बैक्सीन ग्रामीण क्षेत्रों में भी बैक्सीन लगवाने में सफलता हासिल करते है तो निश्चित रूप से भविष्य में आने वाली किसी भी लहर से हम उतने प्रभावित नही होंगे जितना की द्वितीय लहर में प्रभावित हुये थे। बैक्सीनेशन के पश्चात यदि हम संक्रमित भी होते है तो संक्रमण जानलेवा नही होगा और नार्मल फ्लू के साथ वह संक्रमण समाप्त हो जायेगा। उन्होंने कहा कि बैक्सीनेशन सेंटर पर बैक्सीन की डोज बर्बाद न हो इस तरफ भी ध्यान दिये जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि जिस भी स्थल पर बैक्सीनेशन होना हो उस स्थल पर जनप्रतिनिधियों, प्रधान, कोटेदार को यदि आमंत्रित किया जाता है तो लोग स्वतः केन्द्र पर आकर अपना बैक्सीनेशन करायेंगे।
उन्होंने आगे बताया कि गेहूं क्रय की अंतिम तिथि शासन द्वारा 15 जून 2021 निर्धारित की गयी है। जिन कास्तकारों को टोकन जारी किया गया है उन सभी कास्तकारों का गेहूं 15 जून तक प्रत्येक दशा में क्रय कर तीन दिन के अंदर उनके भुगतान की समुचित कार्यवाही पूर्ण करें। इसी के साथ उन्होंने कहा कि अनाज बड़ी मेहनत के बाद पैदा होता है। ऐसे में जो बरसात हो रही है उसमें अनाज भीगने न पाये सभी एजेंसियां पुख्ता इंतजाम करें। किसी भी स्थान से गेहूं भीगने की सूचना प्राप्त होने पर उक्त अधिकारी एवं कर्मचारी की आक्षमता माना जायेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि बरसात का सीजन आ रहा है। किसी भी स्थल, शहर हो या गांव जल जमाव न होने पाये ऐसी व्यवस्था की जाये। बरसात के मौसम में होने वाले बीमारियांे के इलाज के लिए भी पर्याप्त मात्रा में दवा आदि की व्यवस्था करायी जाय। उन्होंने यह भी कहा कि सभी प्राथमिक, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों तथा जिला अस्पताल में ओपीडी की सेवा सुचार रूप से कार्य कर रही है या नही इसकी भी नियमित समीक्षा की जाय।

Times Todays News

No comments so far.

Be first to leave comment below.

Your email address will not be published. Required fields are marked *