कछुए की चाल से हो रहा  रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण कछुए की चाल से हो रहा  रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण
जमीर अहमद पस्ता भेलसर अयोध्या ।बहुप्रतीक्षित रुदौली रेलवे संख्या-143बी पर निर्माणाधीन ओरवब्रिज का कार्य अधर में लटका हुआ है। लगभग कई दिनों से राज्य... कछुए की चाल से हो रहा  रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण

जमीर अहमद पस्ता

भेलसर अयोध्या ।बहुप्रतीक्षित रुदौली रेलवे संख्या-143बी पर निर्माणाधीन ओरवब्रिज का कार्य अधर में लटका हुआ है। लगभग कई दिनों से राज्य सेतु निगम का कार्य ठप है, तो वहीं रेलवे विभाग भी कछुए की गति से कार्य कर रहा है । ओवरब्रिज के निर्माण होते चार साल बीतने को है लेकिन, निर्माण कार्य आज भी पूरा नहीं हो सका। शुरुआती दौर में रेलवे ओवरब्रिज की लागत 23 करोड़ रुपये थी जो धीरे-धीरे बढ़कर लगभग 35 करोड़ रुपये तक पहुंच गई है। कोरोना संक्रमण को लेकर वीकेंड लाक डाउन लागू होने से कार्य की गति धीमी पड़ गई है । फिलहाल तो लोगों को ये ओवरब्रिज निर्धारित समय से इस्तेमाल के लिए नहीं मिलने वाला है। दो दिन पूर्व क्षेत्रीय भाजपा विधायक रामचंद्र यादव ने पत्रकारों व जिम्मेदार अधिकारिओ से वार्ता की ।

रेलवे के जिम्मेदार अधिकारिओ ने कहा कि बारिश से पूर्व ओवर ब्रिज का कार्य पूरा करा दिया जाएगा। जिससे वर्षा काल में लोगों को होने वाली परेशानियों से छुटकारा मिल जाएगा। वहीं इस ओवरब्रिज के निर्माण के चलते मुख्य मार्ग लगभग चार सालों से बाधित है, जिससे रुदौली का व्यापार काफी प्रभावित हुआ है। इसको लेकर समय-समय पर व्यापारियों ने रुदौली उद्योग व्यापार मंडल के संग अपनी आवाज तो बुलंद की लेकिन यह आवाज नक्कारखाने में तूती साबित हो रही है। हाल यह है कि राज्य सेतु निगम द्वारा पिलर व स्लैब डालकर निर्माण कार्य की गति धीमी कर रखा है जिससे बारिश से पहले ब्रिज का निर्माण मील का पत्थर साबित होता दिख रहा है, जबकि अभी ब्रिज के दोनों ओर सर्विस मार्ग कच्चा ही है। सर्विस मार्ग पर जल निकासी के लिए बनी दो पुलिया, क्रास बैरियर, ओवरब्रिज के ऊपर डामरीकरण, स्वागत द्वार आदि का निर्माण कार्य अभी बाकी है।

खैरनपुर निवासी समाजसेवी संजय कुमार अग्रवाल कहते हैं कि रुदौली की जनता चार साल से परेशान है प्रतिवर्ष बारिश में रुदौली व आस पास की जनता को आवा गमन में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है अगर आप को भेलसर से रुदौली जाना है तो आप को राष्ट्रीय राजमार्ग से गुलचप्पा मार्ग होते हुए घूम कर जाना होगा ठीक इसी प्रकार रुदौली की जनता को अगर खैरनपुर सामुदायिक स्वास्थ केंद्र जाना पड़े तो इसी रास्ते से होकर जाना होगा जो लोगो के लिए एक चिंता का विषय है , इसकी शिकायत पीएमओ सहित मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर की गई है। इस निर्माणाधीन ओवरब्रिज का शिलान्यास 14 अक्टूबर 2017 को उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने किया था। जिसे 2019 के पहले पूरा कराने को कहा गया था। निर्माण कार्य पूरा न होने पर अवधि बढ़ाकर जून 2020 कर दी गई, अब 2021 में भी 6 माह बीत गया फिर भी कार्य पूरा होता नजर नहीं आ रहा है। वहीं रुदौली की लाइफ लाइन कही जाने वाली मुखमार्ग का आवागमन बंद होने से रुदौली का व्यापार थम सा गया है। जबकि भेलसर-रुदौली मार्ग चार जिले की सीमा को जोड़ता है। …रेलवे ब्रिज का निर्माण लगभग 80 %पूरा हो चूका है शेष कार्य 2 माह में पूर्ण करा दिया जायेगा ! कोरोना महामारी के कारण निर्माण कार्य में देरी हो रही है। जल्द ही कार्यपूर्ण कराया जाएगा।

Times Todays News

No comments so far.

Be first to leave comment below.

Your email address will not be published. Required fields are marked *