वैक्सीनेशन ही कोरोना से बचाव का स्थाई इलाज : विनय वैक्सीनेशन ही कोरोना से बचाव का स्थाई इलाज : विनय
तरबगंज गोंडा कोरोना वायरस बहुत सूक्ष्म है लेकिन प्रभावी वायरस है। अध्ययन के अनुसार यह वायरस मानव के बाल की तुलना में 900 गुना... वैक्सीनेशन ही कोरोना से बचाव का स्थाई इलाज : विनय

तरबगंज गोंडा

कोरोना वायरस बहुत सूक्ष्म है लेकिन प्रभावी वायरस है। अध्ययन के अनुसार यह वायरस मानव के बाल की तुलना में 900 गुना छोटा है, लेकिन इसका संक्रमण दुनियाभर में तेजी से फ़ैल रहा है। आपके पास इससे बचने का क्या उपाय है? आप मास्क लगा सकते हैं,साबुन से हाथ धो सकते हैं,सामाजिक दूरी रख सकते हैं, आप सरकार के द्वारा जारी किए गए गाइडलाइन का पालन कर सकते हैं लेकिन इसका स्थाई इलाज क्या है? अगर कोरोना से बचना है तो मात्र एक उपाय रह जाता है वैक्सीनेशन, ये कहना है पत्रकारिता एवं जनसंचार में अध्ययनरत व राजनीतिक विश्लेषक विनय दुबे का। श्री दुबे बताते हैं कि शहर के युवाओं में वैक्सीनेशन को लेकर एक खास दिलचस्पी थी,लेकिन गाँव में युवाओं को जागरूक करने की तरफ हमारी सरकार और हम सबको काम करने की आवश्यकता है। कुछ लोग को ग़लती कहें या उनकी मानसिकता जो वैक्सीन को लेकर दूसरों के अंदर भय की स्थिति पैदा कर रहें हैं। मैं तमाम अपने साथी जो 18+ हैं, उनसे अपील करता हूँ कि आप किसी भी तरह के अफवाह पर ध्यान न देकर वैक्सीन लगवाएं और देशहित में अपने परिवार, आपने साथी, रिश्तेदार और अपने जानने वालों को जागरूक कर देश को कोरोना के ख़िलाफ़ एक निर्णायक लड़ाई लड़ने में मदद करें। हमे हमारे वैज्ञानिकों पर भरोसा होना चाहिए, हर काम हम सरकार पर नहीं छोड़ सकते हमे ख़ुद जागरूक होना होगा और दूसरों के बीच में जाकर उनको भरोसा दिलाना होगा कि वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है बस अवश्यकता है तो उनके सहयोग की। ऐसे में युवाओं से समाज को और हमारी सरकारों को बहुत अपेक्षा है,मैं अपने शासन के प्रतिनिधियों से भी अपील करता हूँ तरबगंज के विधायक श्री प्रेम नरायण पांडेय,केसरगंज सांसद श्री बृज भूषण शरण सिंह और समस्त गाँव में नव निर्वाचित प्रधान गण यदि एक ऐसी टीम बना कर अपने क्षेत्र व गाँव में भेज कर उनको समझा सके जो वैक्सीन को लेकर भय की स्थिति में हैं,ऐसी योजना बनाने से एक तो गाँव वाले वैक्सीन लेकर कोरोना महामारी से सुरक्षित हो जाएंगे और दूसरा फायदा उन प्रतिनिधियों को होगा जिनका संपर्क उनके क्षेत्र के गांवों में रह रहे वोटरों से टूट चुका है। 2022 विधानसभा चुनाव भी बहुत दिन नहीं बचा है ऐसे में अगर वोटर सुरक्षित रहेंगे तभी आपको वोट करेंगे। “घर पर रहें सुरक्षित रहें”

Times Todays News

No comments so far.

Be first to leave comment below.

Your email address will not be published. Required fields are marked *