एनटीपीसी ने एक दिन में बनाया एक बिलियन यूनिट बिजली उत्पादन का रिकाॅर्ड एनटीपीसी ने एक दिन में बनाया एक बिलियन यूनिट बिजली उत्पादन का रिकाॅर्ड
डॉ. मनी राम वर्मा भारत की सबसे बड़ी ऊर्जा उत्पादक कंपनी एनटीपीसी ने उस वक्त एक नया रिकार्ड स्थापित किया जब एक अकेले दिन... एनटीपीसी ने एक दिन में बनाया एक बिलियन यूनिट बिजली उत्पादन का रिकाॅर्ड



डॉ. मनी राम वर्मा

भारत की सबसे बड़ी ऊर्जा उत्पादक कंपनी एनटीपीसी ने उस वक्त एक नया रिकार्ड स्थापित किया जब एक अकेले दिन एनटीपीसी की विभिन्न इकाइयों से एक बिलियन यानी एक अरब यूनिट बिजली का उत्पादन किया गया। एक दिन में इतनी ज्यादा बिजली के उत्पादन का यह एक रिकाॅर्ड है। उल्लेखनीय है कि एनटीपीसी की संस्थापित क्षमता 63635 मेगावाट, जिसमें देश भर में स्थित 24 कोयला आधारित और 7 गैस आधारित स्टेशन शामिल है। संयुक्त उद्यम के तहत 9 स्टेशन कोयला आधारित है तथा 12 अक्षय ऊर्जा परियोजनाएं भी है। कंपनी ने वर्ष 2032 तक 128000 मेगावाट की स्थापित विद्युत क्षमता पैदा करने का लक्ष्य स्थापित किया है। 1975 में स्थापित भारत की यह महारत्न कंपनी ऊर्जा उत्पादन में लगातार नए कीर्मिमान स्थापित कर रही है। ताप ऊर्जा के साथ साथ एनटीपीसी ने नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र मे भी प्रभावशाली दखल रखा है और विगत कुछ दशकों में सौर ऊर्जा, पवन ऊर्जा एवं पनबिजली के उत्पादन की दिशा में भी कंपनी ने ऊंची छलांग है। एक दिन में एक बिलियन यूनिट बिजली का उत्पादन अपने आप में बेहद महत्वाकांक्षी उपलब्धि है। इस संबंध में एनटीपीसी टांडा के परियोजना प्रमुख के श्रीनिवास राॅव का कहना है कि एह उपलब्धि बेहतर कार्य योजना, बेहतर मानव संसाधन तथा उत्कृष्ट प्रबंधन के कारण हासिल की जा सकी है। निकट भविष्य में एनटीपीसी अपनी इस उपलब्धि को उतरोत्तर और बढ़ाएगी। दुनियाभर की अर्थव्यवस्थाओं को प्रभावित करने वाली महामारी कोविड-19 के सुरक्षा मानकों को पूरा करतें हुए टांडा परियोजना ने विगत वर्ष 2020-21 में टाण्डा विद्युतगृह अनेक चुनौतियों के बावजूद 90.01 प्रतिशत पी.एएल.एफ. पर 3954 मिलीयन यूनिट विद्युत उत्पादन करने में सफल रहा है। उन्होने 2021 के अंत तक एनटीपीसी इससे भी ज्यादा बड़े लक्ष्य को हासिल करेगी क्योकि एनटीपीसी की कई बडी़ परियोजनाएं पूर्ण होने के कगार पर है जिसमें से एक एनटीपीसी टांडा भी है। एनटीपीसी टांडा परियोजना की 660 मेगावाट की 6ठीं यूनिट से व्यावसायिक उत्पादन आगामी महिनों में चालू हो जानें से इसकी कुल संस्थापित क्षमता 1760 मेगावाट हो जाएगी।

Times Todays News

No comments so far.

Be first to leave comment below.

Your email address will not be published. Required fields are marked *